___________________________________________________ मुजफ्फरनगर जनपद के१०० किमी के दायरे में गंगा – यमुना की धरती पर स्थित पौराणिक महाभारत क्षेत्र

________________________________________

ऐतिहासिक सहारनपुर नगर दो हिस्सों में बटा हुआ है। पुराना और नया सहारनपुर और इन दोनों भागों को बांटने का काम वह रेल लाइन करती है, जो इस नगर के बीच में से होकर गुजरती है।

लेकिन सबसे पहले बात करते हैं उस घंटाघर की जो इस नगर के हर दौर की गतिविधि का साक्षी रहा है। यहां के निवासी इसे शहर की पहचान मान इसे शहर का दिल कह कर नवाजते हैं। इस स्थान की यादों के पन्नों में इस शहर के कितने ही किस्से दर्ज हैं। जिन्हें एक-एक कर बताना आसान नहीं है। घंटाघर चौक का स्वरूप अब पहले से काफ़ी बदल गया है।

सहारनपुर का रेलवे स्टेशन और बस अड्डा इसके पास ही स्थित है। कोई भी व्यक्ति रेल या बस के द्वारा इस शहर से बाहर जाए या बाहर से सहारनपुर आए उसे इसके पास से होकर ही आना जाना पड़ता है।

घंटाघर इस नगर के पांच प्रमुख मार्गों से जुड़ा हुआ है। इनमें दो तो हाईवे ही शामिल है। देहरादून रोड, अंबाला रोड, भगत सिंह मार्ग, रेलवे रोड और कोर्ट रोड पर इसी घंटाघर चौक से ही आना जाना होता है।

घंटाघर गोल चक्कर के बीचो-बीच शहीद-ए-आजम भगत सिंह की प्रतिमा स्थापित है। चौक के पास ही भव्य हनुमान मंदिर स्थित है। इसी चौक के कोने में अब आधुनिक स्वरूप में बदला गांधी आश्रम है।

इस ऐतिहासिक स्थल के साथ शहर की प्रमुख हस्तियों महान इतिहासकार डॉक्टर कन्हैयालाल मिश्र प्रभाकर, महान चिकित्सक डॉ आर एन बागले, बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर विश्वास और लेडी डॉक्टर ऑस्टिन की यादें भी जुड़ी है जो जीवन भर घंटाघर के पास ही रह कर समाज मैं अलग जगाते रहे।

इस चौक के आसपास ही कई प्रसिद्ध होटल, रेस्टोरेंट और आधुनिक शॉपिंग केंद्र के साथ- साथ मशहूर बेकरी, व स्वीट शॉप है तो बर्फी और लस्सी के लिए प्रसिद्ध मिठाई की दुकान भी है। यहां के कई जाने माने रेस्टोरेंट्स का अपना जलवा है। टिक्की- चाट खाने वालों की भी यहां भीड़ लगी रहती है।

घंटाघर से ही दिल्ली रोड की तरफ कुछ आगे बढ़ते ही कचहरी पुल के नाम से प्रसिद्ध रेलवे ब्रिज है। इसी से एक रास्ता जाता है जिसे कोर्ट रोड कहते हैं। यह रोड सहारनपुर नगर के लगभग सभी प्रमुख सरकारी कार्यालयों की गतिविधियों का केंद्र स्थल है। इसी से कोर्ट रोड की शहर के अन्य स्थानों से अलग पहचान है।

कोर्ट रोड पर कई बड़े और प्रसिद्ध ब्रांडेड शोरूम से लेकर कई बैंक, मार्केट, कांप्लेक्स, होटल, रेस्टोरेंट और अन्य कई प्रमुख और उल्लेखनीय बड़े-बड़े शोरूम और भव्य व्यापारिक प्रतिष्ठान यहां हैं। इसके अलावा इस रोड पर कई सराफ और ज्वेलरी शोरूम सहित जूते, रेडीमेड कपड़े, सौंदर्य प्रसाधन और अन्य जरूरी वस्तुओं की दुकानों के साथ साथ प्रमुख चिकित्सकों के क्लीनिक आदि की लंबी फेहरिस्त है। इसी रोड पर आयकर कार्यालय का शानदार भवन है। इसी रोड के शॉपिंग कांप्लेक्स में तमाम छोटी-बड़ी दुकानें शोरूम, रेस्टोरेंट्स, फूड प्वाइंट आदि खुले हैं। इतना सब कुछ होने से यह रोड इस नगर का सबसे आकर्षक स्थल है।

कचहरी और सरकारी दफ्तरों के इसी रोड पर स्थित होने के कारण विभिन्न संगठनों द्वारा नित्य धरना, प्रदर्शन, आंदोलन और राजनीतिक गतिविधियां पूरे वर्ष चलती रहती हैं।

कोर्ट रोड से ही इस नगर के कई प्रमुख शिक्षण संस्थानों को जाने के रास्ते हैं तो इसी रोड से दिल्ली रोड स्थित इंडस्ट्रियल एरिया का रास्ता और इस क्षेत्र में स्थित अनेकों मैरिज होम, होटलों आदि अन्य स्थानों को जाने के रास्ते जुड़े हुए हैं।

सहारनपुर नगर के पुराने इलाके में मोरगंज अति व्यस्ततम बाजार है। इस क्षेत्र में दैनिक आवश्यकता की वस्तुओं और कपड़े आदि के थोक बाजार हैं।

पुराने शहर का ही हलवाई हट्टा खाने-पीने के शौकीन लोगों के लिए प्रमुख बाजार है। पूड़ी कचौड़ी, मिठाई, दूध – मलाई – रबड़ी का स्वाद लेना हो या चटपटी चाट और गोलगप्पे खाने का मन कर रहा है तो बस हलवाई हट्टा चले जाइए। दूर-दूर से लोग यहां चाट के स्वाद का आनंद लेने के लिए आते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *