_____________________________________________________________ मुजफ्फरनगर जनपद (उ.प्र.- भारत)के १०० कि.मी. के दायरे में गंगा – यमुना की धरती पर स्थित पौराणिक महाभारत क्षेत्र

_________________________________________

मंगला देवी मंदिर  – –

बुलंदशहर जनपद में नरोरा के पास एक छोटा सा बेलौन गांव स्थित है। यह गांव  मंगला देवी के प्राचीन मंदिर के लिए प्रसिद्ध है। यह  पांडवों के समय का मंदिर है। यहां भगवान श्री कृष्ण के बड़े भाई बलराम जी ने पूजा की थी।

प्राचीन ग्रंथ गर्ग संहिता में इस क्षेत्र का नाम विलव वन के रूप में आया है। बेलौन नाम की उत्पत्ति बिल्व वन से हुई है।

बेलौन मंदिर बहुत पुराना मंदिर है और महत्वपूर्ण तीर्थस्थल है।

एक किवदंती के अनुसार जब यहां मंदिर नहीं बना था तब इस स्थान पर ग्वाले, गाय भैंस चराने के लिए आते थे। उस समय मूर्ति भूमि में धंसी हुई थी। ग्वाले इस मूर्ति को पत्थर समझ कर अपनी घास खोदने की खुरपी पर धार लगाते थे। इसी कारण मूर्ति कुछ कटी हुई तथा एक तरफ को झुकी हुई है।

इस मंदिर का जीर्णोद्धार पहले सन 1959 में तथा उसके बाद सन् 2012 में इस मंदिर का जीर्णोद्धार कराया गया।

यहां चैत्र माह और अश्विन माह के नवरात्र के अवसर पर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ती है। बहुत से श्रद्धालु बेलौन भवानी की जात करते हैं तथा बच्चों का मुंडन संस्कार करवाते हैं।

यह स्थान नरौरा के पास में ही होने से श्रद्धालु यहां देवी के दर्शनों के साथ- साथ गंगा स्नान का भी पुण्य लाभ और आनंद उठाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *