__________________________________________मुजफ्फरनगर जनपद (उ.प्र.-भारत)के १००किमी के दायरे में गंगा-यमुना की धरती पर स्थित पौराणिक महाभारत क्षेत्र
_____________________________________

मुजफ्फरनगर जनपद के चरथावल कस्बे से 7 किमी दूर कृष्णा नदी के किनारे बसे कसौली गांव के एक खाली प्लाट में कर्णभेदी आवाज के साथ आसमान से लगभग 18 किलोग्राम वजनी एक उल्का पिंड गिरा था।

यह बात सन 2011 में नवंबर माह के पहले रविवार के दिन देर शाम के समय की है। उस दिन कसौली गांव के लोगों ने तेज आवाज गूंजती हुई सुनी। कोतुहल और उत्सुकतावश महिलाएं भी अपनी छतों पर पहुंच गई। तेज रोशनी के साथ एक पत्थर हवा में उड़ता हुआ देखा गया। तेज आवाज के साथ आ रही वह पत्थरनुमा वस्तु कसौली गांव के एक खाली प्लाट में आकर जमीन में धंस गई।

रोशनी और तेज आवाज के साथ गांव की तरफ आ रही वस्तु को देखकर हर कोई भौचक्का था। इस पत्थर के जमीन पर गिरने से पहले आसमान में घूमते हुए की तेज आवाज को आसपास के गांव छिमाऊं, चौकड़ा, कुटेसरा, बुड्ढाखेड़ा और आसपास के कई गांवों के ग्रामीणों ने भी सुना था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *