बागपत जनपद का छोटा सा कस्बा अग्रवाल मंडी टटीरी देश की प्रमुख मंडियों में माना जाता था। यह मंडी गुड और खांड की मंडी के रूप में प्रसिद्ध है। लकड़ी व कोयले का भी यहां पर व्यापार होता है।
किसी समय यहां गुड़ से भरी गाड़ियों का जमावड़ा लगा रहता था। गुड़ और खांड की महक यहां की हवा में महकती रहती थी। लेकिन यह मंडी अब अपना अस्तित्व खोती जा रही है।

अपराधिक तत्वों द्वारा यहां के व्यापारियों से जबरदस्ती रंगदारी वसूलने के कारण यहां से बहुत से व्यापारी दूसरी जगह चले गए हैं या उन्होंने अपना व्यापार बदल लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *